Monday, November 28, 2022
Home Blog Page 16

Sensex in hindi – सेंसेक्स क्या है ?

1
sensex in hindi sensex

आपने अक्सर अख़बार,टेलीविज़न और सोशल मीडिया के माध्यम से सेंसेक्स (Sensex) शब्द जरुर सुना या पढ़ा होगा |सेंसेक्स आज इतने अंक ऊपर उछला या सेंसेक्स आज इतने अंक नीचे लुढका अक्सर ही आपने इन सब बातो को सुना होगा सेंसेक्स Share Market का एक एहम हिस्सा है और एक बहुत ही महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है तो आज हम बात करने वाले है Sensex in hindi – सेंसेक्स क्या है ?

1.Sensex क्या है ? अर्थ

सेंसेक्स (Sensex)मुंबई में स्थित Share Market शेयर बाज़ार (BSE) का सूचकांक है BSE का अर्थ है बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज |

सेंसेक्स की बात करे तो सेंसेक्स दो शब्दों से मिलकर बना है “Sensitive” अर्थ “संवेदी” और “Index” अर्थ “सूचकांक” अर्थात “संवेदी सूचकांक”

Sensex  भारतीय शेयर बाज़ार (Stock Market) में सूचीबद्ध कंपनियों के भावो में उतार/चढ़ाव को बताता है इसी के जरिये हम सूचीबद्ध 30 बड़ी कम्पनी के बाज़ार में प्रदर्शन की जानकारी प्राप्त करते है |

Sensex की शुरुआत 1 जनवरी 1986 में हुई थी इसमे 30 बड़ी कंपनियां शामिल होती है जो अपने शेयर के आधार पर ऊपर नीचे होती रहती है इसमे 30 कंपनियां शामिल होती है जिसके कारण BSE 30 के नाम से भी जाना जाता है यह सभी यह सभी लिस्टेड अर्थात सूचीबद्ध कंपनियों के भावो के उतार चढ़ाव के बारे में जानकारी प्रदान करता है| सेंसेक्स में कंपनियों को मार्केट कैपिटलाइजेशन के अनुसार देखा जाता है और भारत की GDP का लगभग 37% भाग इन्ही का होता है

मुख्य तौर पर देखे तो यह कहना गलत नहीं होगा कि सेंसेक्स का मुख्य कार्य है सभी 30 सूचीबद्ध कंपनियों के शेयरों की कीमतों और उनके सूचकांको पर नजर रखना |

2. सेंसेक्स कैसे बनता है ?

बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (BSE) का ही हिस्सा है सेंसेक्स जो की सभी सूचीबद्ध कंपनियों से मिलकर बना हुआ है इसके अलावा सेंसेक्स की कुल लिस्टेड कंपनियों की बात करे तो हजारो कंपनियां सेंसेक्स में शामिल है लेकिन सेंसेक्स के सूचकांको के आंकड़ो की गणना केवल प्रमुख 30 कंपनियों के शेयरों के आधार पर होती है |

share market

यह सभी कंपनियां भारत के 13 अलग अलग सेक्टर से ली जाती है जो अपने सेक्टर में प्रमुख होती है और मार्केट का बहुत बड़ा हिस्सा इनके अंतर्गत कार्य करता है यह कंपनियां बैंकिंग,फाइनेंस,ऑटोमोबाइल,फार्मा,इन्फ्रास्ट्रक्चर,इलेक्ट्रिकल,टेक्नोलॉजी, और ऐसे ही अलग अलग सेक्टर से चुनी जाती है मार्केट में इनका अपना प्रभुत्व होता है इसलिए इनके शेयरों की मांग मार्केट में ज्यादा होती है |

और इसी आधार पर इन्हें टॉप 30 कंपनियों में शामिल किया जाता है और यही कारण है की इनके शेयरों की निवेशक अधिक खरीदते और बेचते है जिससे इनकी मार्केट में साख बन जाती है और यह सूचीबद्ध कंपनियों में शामिल होती है| Sensex in hindi

इन सभी सूचीबद्ध कंपनियों का चुनाव  स्टॉक एक्सचेंज की इंडेक्स कमिटी के द्वारा किया जाता है जिनमे मुख्य रूप से सरकार,बैंक,वितीय संस्थान,अर्थशास्त्री और बाज़ार के बड़े विशेषज्ञ होते है जो कंपनियों का चयन करते है|

3.सेंसेक्स के घटने और बढने के क्या कारण है ?

सेंसेक्स के घटने और बढ़ने के कारण की बात करे तो कंपनियों के शेयरों में बदलाव के कारण होता है सरल भाषा में कहे तो यदि कंपनी Share bazar में अच्छा प्रदर्शन करती है तो या फिर कोई नया प्रोजेक्ट लॉन्च करती है,अपने कार्यो का विस्तार करती है जिससे कम्पनी की प्रगति होती है अच्छे प्रदर्शन के फलस्वरूप कंपनी के शेयर का भाव शेयर बाज़ार में उछाल मारेगा और भाव तेजी से ऊपर होगा |

इसके विपरीत यदि किसी कंपनी का प्रदर्शन किसी दिन अच्छा नहीं रहता है और वह उस दिन अपनी प्रतियोगी कंपनियों से अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाई तो उसके फलस्वरूप शेयर बाज़ार में उसके भाव में कमी आएगी जिस कारण भाव गिरेगा यही नियम सब कंपनियों पर लागू होता है सभी मिलकर अच्छा प्रदर्शन करती है तो सेंसेक्स में उछाल देखने को मिलेगा और अगर सबका प्रदर्शन ठीक नहीं रहा तो सेंसेक्स का सूचकांक नीचे गिरेगा |

4.किस आधार पर सभी कंपनियों का चुनाव होता है ?

1.प्रत्येक दिन के औसत ट्रेड और कंपनी की वैल्यू के आधार पर कंपनी देश की बाकि 100 कंपनियों में होनी चाहिए |

2.एक साल के अंतर्गत कंपनी ने जितने दिन भी जब शेयर बाज़ार खुला हो तो कितना स्टॉक कंपनी ने ख़रीदा या बेचा है इस बात को भी ध्यान में रखा जाता है |

3.कंपनी के शेयर पिछले 1 साल या उससे अधिक समय से share market में सूचीबद्ध होने चाहिए | Sensex in hindi

यह कुछ मुख्य बाते है इनके अलावा और भी कई बाते है जो की एक कंपनी की लिस्टिंग में इंडेक्स कमिटी द्वारा ध्यान दी जाती है |

5.सेंसेक्स के क्या फायदे है ?

सेंसेक्स का सबसे मुख्य फायदा यह है की यहाँ निवेशक अपने निवेश के जरिय अपना भविष्य निर्धारित करता है यह निर्भर करता कि मिवेशक को बाज़ार और कंपनी के बारे में कितना ज्ञान प्राप्त है जिसकी सहायता से वह बाज़ार में किसी कंपनी के शेयरों में निवेश करता है |

इसके अलावा रूपए की चाल बाज़ार के अनुरूप समय समय पर बदलती रहती है और जब रुपया मजबूत होता है तो देश में वस्तुओ के दामो में कमी आती है वह सस्ती होती है लेकिन यदि रूपए की कीमत लुढ़कती है तो वस्तुओ की  कीमते बढ़ जाती है या महंगी हो जाती है |

sensex in hindi

आइये इसके अलावा और भी मुख्य फायदों पर ध्यान दे :-

1.जब सेंसेक्स ऊपर जाता है अर्थात कंपनियों के कार्यो में तेजी आती है तो निवेशक ऐसे समय में कंपनियों में निवेश की इच्छा रखते है ऐसे में कंपनियां बढ़ने (Grow) करने लगती है और कंपनियों के विस्तार के कारण कंपनियों में अधिक लोगो की आवश्कता होती है जिसके कारण रोजगार के अवसर बढ़ते है और लोगो को रोजगार मिलता है और बेरोजगारों की संख्या में कमी आती है | Sensex in hindi

2.जब शेयर बाज़ार अच्छा प्रदर्शन करता है तो देश के साथ साथ विदेशी निवेशक भी आगे आते है और भारतीय कंपनियों में निवेश करते है पैसा लगाते है जिससे रूपए में तेजी आती है और विदेशी मुद्रा के मुकाबले रुपया मजबूत होता है और अधिक विदेशी निवेश से वस्तुओ की कीमते घटने लगती है जिससे महंगाई (Inflation ) में भी कमी आती है |

6.सेंसेक्स का नया कीर्तिमान

आज भारतीय  Share Market या शेयर बाज़ार की बात करे तो 1990 में जहाँ सेंसेक्स का संवेदी सूचकांक 1000 हुआ करता था वहीं आज यह आंकड़ा 2020 में 37,000  को पार कर चुका है और हर एक दिन नये कीर्तिमान रच रहा है और निरंतर नई उचाईंयां प्राप्त कर रहा है हम आशा करते है कि भविष्य में यह और भी प्रगति करे और नये कीर्तिमान स्थापित करे जिससे निवेशको को अधिक मुनाफा हो और रूपए में तेजी आये जिससे महंगाई कम हो और लोगो को रोजगार के नये अवसर मिल सके |

बाज़ार के व्यवहार से यदि आप पूर्णत परिचित नहीं है तो share market आपके लिए अधिक जोखिम भरा हो सकता है शेयर बाज़ार के लिए आपको पहले बाज़ार के बारे में अधिक ज्ञान अर्जित करना होगा और बाज़ार में बहुत सोच समझकर निवेश करना होगा जिससे अधिक मुनाफा और कम नुकसान हो सके |

सेंसेक्स से जुडी यह जानकारी आपको कैसी लगी आशा करता हूँ की सेंसेक्स से जुड़े आपके सभी प्रश्नों के उत्तर मेने देने की कोशिश की है और  Sensex in hindi – सेंसेक्स क्या है ? के बारे में में आपको जानकारी डे पाया हूँ तो अगर यह जानकारी अच्छी लगी हो तो इस पोस्ट को अपने दोस्तों और रिश्तेदारों के साथ share जरुर करे धन्यवाद !

 

 

 

Share Market in hindi – Stock Market शेयर बाज़ार क्या है ?

4
Share market in hindi

“शेयर” बाज़ार 2 शब्दों से मिलकर बना है शेयर का मतलब “हिस्सा” और “बाज़ार” वह स्थान जहाँ “खरीददारी और बिक्री” होती है share market in hindi कहलाता है| कुछ इस प्रकार से Stock Market अर्थात शेयर बाज़ार (share market) वह स्थान  होता है जहाँ कंपनियों की हिस्सेदारी शेयर के रूप में खरीदी व बेचीं जाती है | भारत का बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज(BSE) और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (NSE) भारत के दो प्रमुख शेयर बाज़ार है|

stock market share bazar share market

यदि आप शेयर बाज़ार के बारे में जानकारी रखते है तो आपने वारेन बुफ्फत्त (Warren Buffatt) का नाम जरुर सुना होगा यह एक ऐसे व्यक्ति है जो शेयर बाज़ार से आज 8030 करोड़ USD के मालिक बन चुके है |

कहने का अर्थ है यदि आपकी किस्मत और काबिलियत आप पर मेहरबान है तो आप रोडपति से करोडपति बन सकते है लेकिन अगर आपकी किस्मत और काबिलियत आपके विपरीत है तो करोडपति से रोडपति भी बन सकते है यह बात शेयर बाज़ार पर भी लागु होती है बाज़ार के बारे में अधूरा ज्ञान आपको बर्बाद कर सकता है

तो आज हम जानेगे Stock Market- शेयर बाज़ार क्या है?

1. Stock Market- शेयर बाज़ार क्या है ?

जैसा की हमने आपको बताया की शेयर मार्केट (Share market) वह स्थान है जहाँ टॉप लिस्टेड कंपनियों की हिस्सेदारी share के रूप में खरीदी व बेचीं जाती है अर्थात आप कंपनी के जितने share खरीदते हो उतने हिस्से के आप हिस्सेदार हो जाते हो अथवा कंपनी के उतने हिस्से पर आपका मालिकाना हक हो जाता है |

कंपनी अगर मुनाफा कमाती है तो आपको भी आपके share के अनुसार मुनाफा मिलता है और यदि कंपनी को नुकसान का सामना करना पड़ता है तो इसका असर आपके उपर भी पड़ेगा अर्थात आपको भी नुकसान सहना पड़ेगा |आप अपनी मर्जी के अनुसार उन share को बेच भी सकते हो कंपनी जब शेयर जारी करती है तो किसी व्यक्ति या समूह को कितने शेयर देने है यह उसके विवेक पर निर्भर करता है

किसी भी लिस्टेड कंपनी के शेयरों का मूल्य BSE/NSE में दर्ज होता है सभी सूचीबद्ध कंपनियों के शेयरों का मूल्य उनकी लाभ कमाने की क्षमता के अनुसार घटता या बढ़ता रहता है |शेयर बाज़ार (Stock market) पर नियंत्रण भारतीय प्रतिभूति एवं विनिमय बोर्ड(SEBI) के हाथो में होता है वही BSE/NSE दोनों पर नजर रखता है|

SEBI की अनुमति के बाद ही कंपनी अपने शेयर बाज़ार में लिस्ट होकर प्राम्भिक निर्गम जारी करती है|प्रत्येक तिमाही/छमाही या सालाना आधार पर कंपनियां अपने लाभ को हिस्सेदारों में लाभाश के रुक में देती है और इन सभी की जानकारी SEBI और BSE/NSE पर मौजूद होती है| Share market in hindi

2.कंपनियां BSE/NSE में कैसे लिस्ट होती है ?

Stock Market या शेयर बाज़ार में लिस्ट होने के लिए कंपनियों को एक लिखित समझौता करना होता है इसके बाद कंपनी SEBI के पास अपने सभी जरूरी दस्तावेजो को जमा कराती है SEBI की उस कंपनी के लिए जैसे ही सारी जाँच पूर्ण होती है और सारी शर्ते पूर्ण हो जाती है तो कंपनी BSE/NSE में लिस्ट हो जाती है|अगर कोई कंपनी अपने लिस्टेड समझौते के अनुसार और उससे जुडी शर्तो का पालन नही करती है तो BSE/NSE से उस कंपनी को अनलिस्ट कर दिया जाता है|

इसके बाद कंपनी अपनी हर गतिविधि की जानकारी को Stock market यानि शेयर बाज़ार को देती है ख़ास तौर पर पर ऐसी जानकारी शामिल होती है जिससे जो निवेशक है उसके हित प्रभावित होते है |

3.कंपनियों के शेयरों में उतार चढ़ाव क्यों आता है ?

किसी भी कंपनी के कामकाज,मुनाफे का घटना/बढ़ना,आर्डर मिलना/छिन जाना,ननया प्रोजेक्ट लॉन्च करना इत्यादी के आधार पर उस कंपनी का मूल्यांकन होता है क्योकि कंपनी हर रोज व्यापार करती है तो इस आधार पर मांग और पूर्ति घटने और बढ़ने से उसके शेयरों पर इसका असर होता है कुछ इस प्रकार से कंपनियों के शेयरों में उतार चढ़ाव आता है अर्थात यह कहना गलत नहीं होगा की कंपनियों का प्रदर्शन का सीधा असर उस कम्पनी के शेयरों पर पड़ता है जिससे कम्पनी के शेयर के मूल्य घटते और बढ़ते है |

share market share bazar stock market

4.शेयर कब ख़रीदे ?

यह बहुत ही ख़ास विषय है share market शेयर बाज़ार बहुत ही रिस्क से भरा हुआ है आपकी एक छोटी सी गलती आपको बड़ा घाटा करा सकती है

शेयर बाज़ार में शेयर खरीदने से पहले आप share market की पूरी रिसर्च कर ले या यह कहे की आप शेयर बाज़ार के बारे में पूर्ण ज्ञान प्राप्त कर ले जिससे आपको अधिक मुनाफा हो और अगर नुकसान हो तो कम से कम हो|

इन सभी विषयों के बारे में जानने के लिए Economic Time,Business Time आदि अख़बार पढ़े या फिर Zee Business और NDTV Business जैसे TV चैनल देखे यहाँ आपको शेयर बाज़ार के बारे में बहुत सारी जानकारी मिलेगी यहाँ बाज़ार के विशेषज्ञ आपको तरह तरह की बाज़ार से जुडी बाते बताएँगे| Share market in hindi

जब आपको शेयर बाज़ार के बारे में कुछ जानकारी हो जाये तो आप शुरू करे लेकिन यहाँ आपको मै एक टिप देना चाहूँगा की शुरआत में आप थोड़े पैसे से निवेश शुरू करे और छोटी कंपनियों के शेयर खरीदे और बेचे फिर धीरे धीरे जैसे जैसे आपको अनुभव बढ़ता जाये उस प्रकार से आप अपने निवेश को बढ़ा सकते है|

एक खास बात किसी भी कंपनी में निवेश करने से पहले उस कम्पनी के बारे में सभी जानकरी आप जरुर ले और एस बात पर भी गौर करे की कंपनी का प्रदर्शन कैसा है कम्पनी के पिछले कुछ महीनो और सालो पर भी नजर जरुर डाले की कम्पनी पिछले कुछ समय से कैसा प्रदर्शन कर रही है कुछ कम्पनी अपने निवेशको के साथ धोखा करती है और उनकी मेहनत की कमाई लेकर भाग जाती है इसलिए आप किसी भी कम्पनी में निवेश से पहले उसके बारे में पूरी जानकारी जरुर ले|

5.शेयर बाज़ार से share कैसे ख़रीदे ?

शेयर बाज़ार से आप सीधा शेयर नहीं खरीद सकते शेयर खरीदने और बेचने के लिए आपके पास एक Demat account होना चाहिए| Demat account  से ही आपके शेयर ख़रीदे व बेचे जाएँगे  जिस प्रकार से हमारे पास पैसो के लेन देंन के लिए एक Bank account होता है उसी प्रकार से शेयर market में शेयरों के लेन देन के लिए एक Demat account  होना अनिवार्य है|

मुनाफा होने के बाद आपके मुनाफे का जो भी पैसा है वो आपके Demat account  में आता है यहाँ Demat account  से आपका बैंक अकाउंट लिंक होता है तो उस पैसे को अपने बैंक अकाउंट में ट्रान्सफर कर सकते है|

दुसरे विकल्प की बात करे तो आप किसी भी बैंक में जाकर अपना Demat account  खुलवा सकते है |

6.Demat Account कैसे खोले ?

Demat Account आप किसी भी ब्रोकर से खुलवा सकते है आज 2020 में शेयर मार्केट में  शेयर खरीदना बहुत आसान हो गया है यह ब्रोकर आपको ऑनलाइन या ऑफलाइन दोनों प्रकार से मिल जाएँगे|आप ब्रोकर की online वेबसाइट पर भी जाकर अपना demat account खुलवा सकते है इसके लिए आपके पास एक सेविंग बैंक account होना चाहिए और पैन कार्ड इनकी सहायता से आप online अपना एक demat account खोल सकते है और ट्रेडिंग शुरू कर सकते है |

share market in hind

इसके अलावा आप किसी भी बैंक में जाकर अपना Demat account  खुलवा सकते है लेकिन यदि आप एक ब्रोकर से अपना Demat account खुलवाते है तो इसमे आपका ज्यादा फायदा है क्योकि एक तो इस प्रकार से आपको अच्छा सपोर्ट मिलता है दूसरा ब्रोकर आपको निवेश करने के लिए अच्छी कम्पनी भी suggest करता है|

लेकिन इस सब के लिए वो ब्रोकर निवेशक से कुछ कमीशन चार्ज करता है BSE और NSE में सभी लिस्टेड कंपनियों के शेयर ब्रोकर के माध्यम से ख़रीदे व बेचे जाते है आप सीधा स्टॉक मार्केट या शेयर बाज़ार से शेयर नहीं खरीद सकते |

यहाँ आपको में कुछ online Trading broker की वेबसाइट बताने जा रहा हूँ जहाँ से आप अपने लिए एक demat account खुलवा सकते है|

आशा करता हूँ की Share market in hindi या शेयर बाज़ार से जुड़े आपके सभी सवालो के जवाब आपको जरुर मिल गए होंगे अगर फिर भी कोई सवाल हो तो नीचे कमेन्ट बॉक्स में कमेंट जरुर करे धन्यवाद !

Google Meet क्या है और इसे यूज़ कैसे करे

1
Google meet kya hai or kaise use kare

आज सारा विश्व कोरोना जैसी महामारी से जूझ रहा है दुनिया भर के सभी देश इस बीमारी से जंग लड़ रहे है जिसके चलते सभी देशो को लॉक डाउन का सहारा लेना पड़ा एस बीमारी को तेजी से फैलने से रोकने के लिए जिसके चलते स्कूल,कॉलेज,निजी और सरकारी दफ्तर,यातायात आदि सभी पर रोक लगाई गई जिसके कारण सभी देशो को अपनी अर्थव्यवस्था में भारी नुकसान भी देखने को मिला| Google meet app

google meet app google hangout meet google video confrence google meet download

लेकिन अब धीरे धीरे इस लॉक डाउन की अनलॉक की प्रक्रिया शुरू कर दी है जिसकी वजह से अर्थव्यवस्था पटरी पर आ रही है सरकार लगातार देश के नागरिको से अनुरोध कर कर रही है की जितना हो सके आप घर से ही अपना कार्य करे जिसके लिए Work From Home की शुरुआत की गई है इसके लिए Video confrence का सहारा लिया जा रहा है|

इसी बीच Google meet नाम का app सामने आया है जो की  Video confrence  का कम बखूबी ढंग से करता है तो आज हम बात करने वाले है की Google Meet क्या है और इसे यूज़ कैसे करे?

Zoom Video confrence app को सीधी टक्कर देने के लिए गूगल ने अपने गूगल मीट को बाज़ार में उतार दिया है गूगल meet गूगल के ही hangout confrence app की ही तरह है है बस उससे कई मामलो में यह बेहतर है यह अभी लॉक डाउन के समय से ही चलन में आया है इसे पहले G-suite यूजर ही इस्तेमाल करते थे  लेकिन अब इसे सभी यूजर के लिए फ्री कर दिया गया है |

1.जाने Google Meet क्या है और इसके क्या फायदे है ?

Google meet गूगल की ही एक सर्विस है गूगल मीट की बात करे तो यह एक Video confrencing app है जहाँ आप एक ही समय में 250 लोगो से सीधा इसके माध्यम से जुड़ सकते है गूगल मीट की मदद से आप google Video confrence कर सकते है आप घर बैठे ही देश विदेश के किसी भी व्यक्ति से बात करे सकते है इसके अलावा google hangout meet या google hangout confrence कॉल भी कर सकते है|

इसके अलावा एक और ख़ास फीचर है इसमे जो इसे ख़ास बनाता है आप Video confrence के जरिये 250 लोगो से तो जुड़ सकते है इसी के साथ live streming की मदद से आप एक ही समय में लाखो लोगो से जुड़ भी सकते है|

2.Google meet Video confrence है एक आसान साधन

Google Video confrence मतलब गूगल मीट एप्प की मदद से आप Video confrence के द्वारा अधिकतर लोगो से आमने सामने से जुड़ सकते है|कोरोना वायरस के कारण हुए लॉक डाउन में Zoom Video confrence app का सबसे ज्यादा फायदा हुआ है हालाँकि लाखो अकाउंट हैक होने के बाद Zoom की प्राइवेसी को लेकर हमेशा ही सवाल उठते आये है इसलिए भारत सरकार के गृह मंत्रालय ने इसे लेकर चेतावनी जरी की है की यह zoom Video confrence app प्राइवेसी के मामलो में सुरक्षित नहीं है| Google meet app kya hai or kaise use kare

इसी बीच गूगल ने अपने एक ब्लॉग में कहा है की हमें हमारे यूजर की प्राइवेसी का पूरा ध्यान है और हम अपने यूजर की जानकारी को पूरी तरह से सुरक्षित रखते है इसलिए दुनिया के कई बड़े स्कूल,कॉलेज,सरकारी कंपनियों ने Google meet को सराहा है |

3. Google meet के कई ख़ास फीचर

गूगल मीट एप्प को आप अगर download करना चाहे तो कर सकते है यह गूगल प्ले स्टोर पर मिल जाएगा इसके अलावा आप google meet download किये बिना भी आसानी से एक्सेस कर सकते है Google meet desktop app के जरिये कहने का अर्थ है आप कंप्यूटर पर gmail के माध्यम से gmail meeting invite कर सकते है और लोगो को इसके लिंक के माध्यम से invite कर सकते है gmail meeting invite safe and secure है आप जिसे meeting का लिंक share करेंगे वही व्यक्ति meeting या Video confrence से जुड़ सकेगा|

4.कर सकते है Screen Share

मीटिंग में या फिर स्कूल,कॉलेज में अच्छे से समझाने के लिए screen share एक बेहतर विकल्प है जिससे आप सामने वाले को अच्छी तरह से समझा सकते है आप gmail meeting invite के द्वारा meeting में लोगो से जुड़ सकते है और स्क्रीन शेयर के इस ख़ास फीचर का लाभ उठा सकते है|

आप google meet share screen की मदद से और भी बेहतर तरीके से meeting के सभी member को अपनी बात आसानी से समझा सकते है तो google meet share screen काफी हद तक एस कार्य में सहायक हो सकता है|

 

इन सभी के अलावा आप गूगल के अलग अलग प्रोडक्ट मतलब google photo,google form,google drive,google map और इसी प्रकार google calendar भी उसे करते होंगे और अपने सभी ख़ास कार्यक्रम को उस तारीख पर रिमाइंडर के तौर पर सेट करते होंगे अगर ऐसा नहीं करते तो आप यह google calendar की मदद से कर सकते है आप यहाँ gmail meeting invite की तरह google calendar invite group भी create कर सकते है और अपने सभी कार्यो की एक लिस्ट बना सकते है वो भी google calendar की मदद से यह भी गूगल का ही प्रोडक्ट है तो आप google calendar invite group का भी लाभ उठा सकते है|

तो यह जानकारी आपको कैसी लगी कमेंट बॉक्स में कमेंट जरुर करे

What is Digital Marketing ? डिजिटल मार्केटिंग क्या है ?

1
What is digital marketing 

आज हम बात करने वाले है What is digital marketing की तो आज के आधुनिक दौर में सब ऑनलाइन ही हो गया है|इंटरनेट के जरिये हमारा जीवन पहले से सरल और बेहतर होता जा रहा है|

आज हम घर बैठे ही कई सुविधाओं का लाभ उठा सकते है फिर चाहे वो Online Shopping,एयर और रेल की ऑनलाइन बुकिंग,बिल पेमेंट और या फिर ऑनलाइन बैंकिंग हो इंटरनेट के माध्यम से आज सब बहुत सरल हो गया है|

What is digital marketing 

Digital Marketing के इस दौर मे ज्यादातर बिज़नस ऑनलाइन केवल इंटरनेट की मदद से हो रहे है जहाँ एक ओर 70-80% Shoppers किसी भी प्रोडक्ट को खरीदने से पहले उस प्रोडक्ट के बारे में ऑनलाइन रिसर्च करते है ऐसे में किसी भी कंपनी या बिज़नस के लिए डिजिटल मार्केटिंग बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाते है|

 

What is Digital Marketing-डिजिटल मार्कटिंग क्या है ?

अगर हम बात करे What is Digital marketing? अपनी वस्तुओं और सेवाओं को डिजिटल साधनों द्वारा बढ़ावा देने की प्रक्रिया को Digital Marketing कहते है |आज डिजिटल मार्केटिंग का सबसे बड़ा साधन इंटरनेट है आप मोबाइल,कंप्यूटर,लैपटॉप इत्यादी की मदद से डिजिटल मार्केटिंग से जुड़ सकते है|

नये ग्राहकों तक पहुँचने के लिए यह एक सरल साधन है कम समय मे आप इसकी मदद से अधिक से अधिक ग्राहकों तक पहुँच सकते है |यह प्रोद्योगिकी और कार्य के लिए विकासशील क्षेत्र है|

What is digital marketing 

Digital Marketing के सहारे आप अपने ग्राहकों तक उनके वयव्हार और आवश्कता को देखते हुए कम समय में अधिक से अधिक ग्राहकों तक पहुँच सकते है ग्राहक क्या चाहता है ? उसका व्यवहार क्या है? उसे क्या पसंद है ?

इन सभी पर उत्पादक नजर रख सकता है की उसके ग्राहकों का वयव्हार कैसा है|कम शब्दों में कहे तो डिजिटल मार्केटिंग तकनीक द्वारा ग्राहकों तक पहुँचने का सरल और बेहतर माध्यम है |

इसे भी पढ़े-सुकन्या समृद्धि योजना क्या है ?

Why Digital marketing is important-डिजिटल मार्केंटिंग क्यों आवश्क है?

What is digital marketing?आज का दौर आधुनिकता का दौर है इस आधुनिक समय में आज किसी भी वस्तु के बारे में जानना कितना आसान  हो गया है आप आधुनिक संसाधनों का उपयोग करके किसी भी उत्पाद के बारे में जान सकते है जिसमे इंटरनेट आपकी बहुत हद तक मदद करता है अर्थात Digital Marketing के कार्य को करने में इंटरनेट सक्षम है|

समय हर किसी के जीवन में बहुत महत्व रखता है किसी भी व्यक्ति के जीवन में समय की महत्वता को देखते हुए यह कहना गलत नही होगा की वह किसी से मिल नहीं सकता किन्तु डिजिटल साधनों के द्वारा बात कर सकता है|

 

यही डिजिटल साधन हमारी दिनचर्या का हिस्सा बन चुके है|कुछ इसी प्रकार से Digital Marketing आज के समय में व्यपार और व्यापारियों के लिए एक महत्वपूर्ण माध्यम बन कर उभरा है |जनता अपनी पसंद और सुविधा के अनुसार इन्टरनेट के जरिय से अपनी आवश्कताओ को देखते हुए सामान को ऑनलाइन ही खरीद सकती है इसके लिए उसे कही भी किसी भी दुकान पर जाने की आवश्कता नहीं है|

Types of Digital Marketing- डिजिटल मार्केटिंग के प्रकार

डिजिटल मार्केटिंग के लिए आपको बता दे की आपको इन्टरनेट की आवश्कता होगी अगर यह कहे तो गलत नही होगा की इन्टरनेट ही एकमात्र ऐसा साधन है जिसके द्वारा Digital Marketing सम्भव है तो Digital Marketing के वैसे तो कई प्रकार है लेकिन कुछ मुख्य प्रकार आपको बताने वाले है जो निम्नलिखित है :-

  1. Youtube Channel 
  2. Social Media
  3. Seo-Search Engine Optimization 
  4. E-mail Marketing 
  5. Apps Marketing 
  6. Affiliate Marketing

 

इसे भी पढ़े-What is Elyments App?

1.Youtube Channel

Youtube सोशल मीडिया का एक ऐसा साधन है जिसमे उत्पादक अपने उत्पाद को लोगो के सामने प्रत्यक्ष विडिओ के माध्यम से रखता है youtube में उत्पादक अपने उत्पाद और सेवाओ को विडियो के माध्यम से असंख्य लोगो तक पहुंचा सकता है

क्योकि youtube की बात करे तो यहाँ पर users और viewers की बात करे तो इनकी संख्या लाखो करोडो के तौर पर है |

 

2.Social Media

सोशल मीडिया में कई websites शामिल होती है इन सभी websites को मिलाकर सोशल मीडिया प्लेटफार्म बनता है जैसे facebook.com,twitter.com,Instagram.com etc.अपने विचारों को लाखो लोगो के साथ व्यक्त करने का

यह बहुत अच्छा साधन है आप लोग भी सोशल मीडिया से अच्छी प्रकार से परिचित होंगे|आपने सोशल मीडिया websites पर अक्सर विज्ञापन(ads) देखे होंगे|

 

3.SEO-Search Engine Optimization 

यह एक ऐसा माध्यम है जो की आपकी website को सर्च करने के परिणामों में सबसे ऊपर लाता है जिससे दर्शको(Visiters) की संख्या में बढ़ोतरी होती है जिसके लिए हमें ठीक तरह से अपनी साईट के लिए Keyword और Seo गाइडलाइन्स के अनुसार कार्य करना होता है|

what is digital marketing

4.E-MailMarketing

किसी भी कंपनी द्वारा अपने उत्पादों या सेवाओ को ईमेल के जरिय बढ़ावा देना(Promote) ईमेल मार्केटिंग कहलाता है ईमेल मार्केटिंग कई प्रारूप से किसी भी कंपनी या फर्म के लिए काफी महत्वपूर्ण होता है|यह बिज़नस का एक अहम हिस्सा होता है |

 

5.Apps Marketing

इन्टरनेट के माध्यम से तरह तरह के Apps बनाकर उन पर अपने उत्पादों का प्रचार करने को apps marketing कहते है|

यह भी डिजिटल मार्केटिंग का काफी बेहतर साधन है आज बहुत बड़ी संख्या में लोग smartphone इस्तेमाल करते है बड़ी बड़ी कंपनी अपने खुद के apps बनाकर उसके द्वारा अपने उत्पादों का प्रचार करती है और बेचती है|

इसे भी पढ़े-online पैसे कैसे कमाये

6.Affiliate Marketing

Websites,Blog या फिर लिंक के माध्यम से जो विज्ञापन करते है उसे Affiliate Marketing कहते है इसमे आप लिंक के माध्यम से उत्पाद को आगे भेजते है और ग्राहक उस लिंक पर क्लिक करता है

और उस वस्तु को खरीदता है तो इसके बदले में आपको कुछ कमीशन के तौर पर इनकम होती है आज लोग Affiliate Marketing के सहारे लाखो कमा रहे है|

 

Sukanya Samriddhi Yojana 2020 क्या है जाने हिंदी में

3
httwiki/Sukanya_Samriddhi_Account

भारत में लडकियों की पढाई से लेकर शादी तक हर माँ-बाप परेशान रहते है लेकिन बेटी बचाओ बेटी पढाओ योजना के अंतर्गत प्रधानमंत्री सुकन्या समृद्धि योजना Sukanya Samriddhi Yojana के तहत अपनी बच्ची के उज्जवल भविष्य के लिए पैसे

बचा सकते है |इस योजना के तहत आप सिर्फ ₹250 से अपनी बच्ची के लिए खाता खुलवा सकते है| ऐसी ही छोटी छोटी बचत के जरिये आप अपनी बच्ची की शिक्षा,उच्च शिक्षा और शादी के लिए अपनी बचत की एक रकम को जमा कर सकते है|

Sukanya Samriddhi Yojana

 

योजना की विशेषताए और नियम

Sukanya Samriddhi Yojana साल 2016 -17 में योजना के अंतर्गत 9.1 फीसदी की दर से ब्याज दिया जा रहा था जो इनकम टैक्स छूट के साथ है इससे पहले इसमें 9.2 फीसदी तक ब्याज भी मिला है |अभी वर्तमान समय की बात करे तो करीब 8.5% का ब्याज दिया जा रहा है|खाता खोलने की तिथि से लेकर खाता खुलने के 15  वर्ष पूरे होने के बाद खाता परिपक्व हो जाएगा या फिर 18 वर्ष पूरे होने के बाद उसकी शादी तक यह खाता मान्य होगा|

 

योजना की पात्रता

छोटी स्कीम के तहत सुकन्या योजना सबसे ज्यादा ब्याज दर वाली योजना है Sukanya Samriddhi Yojana के तहत किसी भी बच्ची के जन्म से लेकर 10 वर्ष की आयु से छोटी उम्र की किसी भी बच्ची का खाता इस योजना में खोला जा सकता है|

यह भी पढ़े-Online paisa kaise kamaye इन हिंदी ?

कितनी राशी से खुलेगा खाता ?

Sukanya Samriddhi Yojana में बच्ची का खाता खोलने के लिए न्यूनतम ₹250 रूपए से अधिकतम ₹1.5 लाख रुपये बच्ची के खाते में जमा किये जा सकते है यदि खाताधारक बच्ची का विवाह 21 वर्ष पूर्व ही हो जाता है तो बच्ची के विवाह की तारीख के बाद खाता संचालन की अनुमति नहीं है और बच्ची का  केवल एक ही खाता खोला जा सकता है|

Sukanya Samriddhi Yojana

 

योजना के लिए जरूरी दस्तावेज़

खाता खुलवाने का फार्म,(फार्म के लिए नजदीकी बैंक या डाकघर में सम्पर्क करे) बच्ची का जन्म प्रमाण पत्र अभिभावक के पहचान पत्र और निवास प्रमाण पत्र और इन सभी दस्तावेज़ को आप नजदीकी बैंक अथवा डाकघर (पोस्ट ऑफिस) में जमा कर सकते है |

यह भी पढ़े-What is Elyments App jane hindi me ?

किन कारणों से खाता बंद किया जा सकता है ?

Sukanya Samriddhi Yojana में खाताधारक बच्ची की मृत्यु के बाद उसके म्रत्यु प्रमाण पत्र को दिखाकर उसके अभिभावकों को जमा राशी और उस राशी का ब्याज सहित पूरी रकम लौटा दी जाती है इसके अलावा खाता खुलने के 5 वर्ष बाद खाते को बंद किया जा सकता है लेकिन वो भी खास स्थितियों में जब खाता बंद कराना अनिवार्य हो जाये तो उस राशी पर बैंक ब्याज दर के अनुसार(4%) का ब्याज मिलता है|

 

 

What is Elyments App-जाने हिंदी में

2
what is elyments app

चीन के सामानों के बहिष्कार को लेकर भारत सरकार ने बहुत से एहम कदम उठाये है|चीन के खिलाफ जनता और

सरकार में रोश देखने को मिल रहा है जो की गलवान घाटी में सैनिकों से हुई हिंसक झड़प और सैनिको

की शहादत के बाद शुरू हुआ|पिछले काफी समय से भारत और चीन के बीच रिश्तो में गरमा गरमी

देखने को मिल रही थी |

 

इसी बीच सरकार ने चीन के कई विकास और योजना कार्यो को रद्द किया और इसी के साथ साथ Tik-Tok,Cam-Scanner  और ऐसे  ही 59 Chinese Apps को भारत में बैन कर दिया है|

 

आत्मनिर्भर भारत की राह पर चलते हुए उप राष्ट्रपति श्री वेंकैया नायडू जी ने भारत का पहला Social Media App what is elyments app

“Elyment” को लॉन्च कर दिया है एप्प के लॉन्चिंग कार्यक्रम में Art of Living के संस्थापक श्री रवि शंकर जी

मौजुद थे|लॉन्चिंग के महज़ कुछ घंटो बाद ही यह एप्प Google Play Store पर Trending में आ गया और लाखो लोगो ने इसे डाउनलोड किया|

what is elyments app

Features-फीचर्स

एप्प की बात करे तो Elyments 8 प्रमुख भाषाओं में उपलब्ध है इसी के साथ बाकि social media app की

तरह इसमे भी ऑडियो-विडियो और कॉन्फ्रेंस ऑडियो-विडियो कालिंग की सुविधा भी उपलब्ध है|इस एप्प के जरिय यूजर्स दुनिया में कही

से भी जुड़ सकता है| Facebook और Instagram की तरह ही News feed या Discover जैसे फ़ीचर भी इसमे उपलब्ध है इस एप्प में पब्लिक प्रोफाइल्स भी होंगी जिन्हें यूजर्स फॉलो और सब्सक्राइब कर सकते है आगे चलकर इसमे लोकल वोइस कमांड के फ़ीचर को भी लाने की बात कही जा रही है|

यह भी पढ़े-online paisa kaise kamaye

सिक्योर पेमेंट और इंडियन ब्रांड्स को बढ़ावा देने के लिए E-Commerce को भी शामिल किया गया है|

आप एस एप्प के माध्यम से Facebook,Whatsapp और Instagram की तरह अपने दोस्तों और रिश्तेदारों से जुड़ सकते है

वो भी दुनिया में कही से भी और इसी के साथ आप लोकल प्रोडक्ट भी इसी एप्प की मदद से

खरीद सकते हो |

what is elyments app

 

Secure Data Privacy-आपका डाटा सुरक्षित

Social Media पर अक्सर डाटा प्राइवेसी को लेकर सवाल उठत्ते रहते है इस मामले में विदेशी कंपनिया हमेशा शक के दायरे में रहती है लेकिन Elyment की बात करे तो इसमे आपकी डाटा प्राइवेसी का पूरा ध्यान रखा गया है और यूजर्स के डाटा प्राइवेसी को प्राथमिकता दी गयी है यहाँ आपकी अनुमति के बिना यह किसी भी थर्ड पार्टी को नही देती है |

 

विश्व में सबसे ज्यादा Social Media users भारत में ही है और इसी के चलते हमेशा यूजर्स की प्राइवेसी को लेकर सवाल

उठत्ते रहते है तो इन विशेष बातो का ध्यान Elyments में रखा गया है| what is elyments app

what is elyments app

 

इन सब बातो के साथ ही सरकार भारतीय कंपनियों से अपील कर रही है की वह स्वदेशी एप्प का निर्माण

करे और आत्मनिर्भर भारत के लिए अपना योगदान निभाए|प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी की और से डिजिटल इंडिया के तहत

Aatmanirbhar Innovation Challenge की घोषणा की है इसमे आपको भारतीय एप्प को निर्मित करना है और यह करने पर आप

20 लाख रुपये जीत सकते है|