What is Bitcoin – बिटकॉइन क्या है ?

3
Bitcoin kya hai
Share With Your Friends :-

आज इंटरनेट व्यक्ति की मूलभूत आवश्कताओ में सम्मिलित होता जा रहा है इंटरनेट का प्रचलन धीरे धीरे बढ़ रहा है और अक्सर ही आप इंटरनेट के माध्यम से कुछ ऐसे तथ्यों और जानकारी से रूबरू होते है जिनके बारे में आप पहले नहीं जानते थे |कुछ इसी प्रकार से बिटकॉइन (Bitcoin) है  Bitcoin के बारे में आपने अक्सर ही सुना होगा और इसके बारे में जानने की जिज्ञासा भी होगी |आप यह जानकर हैरान हो जाएँगे की आज 1 Bitcoin की कीमत भारतीय रुपए के हिसाब से करीब ₹8,39,070 रूपए में है तो आज हम आपसे Bitcoin के बारे में बात करने वाले है कि Bitcoin क्या है ( Bitcoin kya hai)

Bitcoin

Bitcoin क्या है ?

Bitcoin की बात करे तो Bitcoin एक प्रकार की डिजिटल करेंसी (Digital Currency) है इसे वर्चुअल करेंसी (Virtual Currency) के नाम से भी जाना जाता  है वर्चुअल करेंसी का मतलब है एक इसी मुद्रा जिसे न तो हम छू सकते है और न ही हम इसे देख सकते है लेकिन इसी के साथ हम इसका इस्तेमाल कर सकते है इसके द्वारा हम आसानी से लेन देन भी कर सकते है |

बिटकॉइन (Bitcoin) का आविष्कार 2008 में किया गया था लेकिन इसे पहली बार जनवरी 2009 में ओपन सोर्स सॉफ्टवेयर के रूप में जारी किया गया था और इसके आविष्कारक सातोशी नकामोतो है लेकिन इस बात का आज तक पता नहीं चल पाया है की यह कोई व्यक्ति है या फिर कोई संस्था और इसका संबंध कहा से है | इसे इलेक्ट्रॉनिक रूप से इसे निर्मित और इलेक्ट्रॉनिक लेन देन के लिए बनाया था | Bitcoin को क्रिप्टोकरेंसी के नाम से भी जाना जाता है | Bitcoin का अपना कोई भौतिक रूप नहीं है और इसे हम न देख सकते है और न ही हम इसे छू सकते है | भारतीय रिज़र्व बैंक ने इसे मान्यता नहीं दी है लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने वर्चुअल करेंसी के माध्यम से क्रिप्टोकरेंसी में लेन-देन की इजाजत दी हुई है इसका अर्थ यह है की भारत में इसकी खरीद खारोख्त हो सकती है |

Bitcoin की कीमत क्या है ?

अगर बात करे Bitcoin की कीमत की तो इसकी कीमत आज लाखो में पहुँच चुकी है इतनी ऊँची कीमत होने का सबसे बड़ा कारण है Bitcoin की लोकप्रियता | आज Bitcoin लोगो के बीच काफी लोकप्रिय है और अधिक लोकप्रियता की वजह से इसकी मांग लगातार बढती जा रही है |

2009 से 2020 तक इसकी कीमत (1 Bitcoin) करीब 8 लाख से भी ऊपर पहुँच चुकी है लेकिन समय समय पर इसकी कीमत घटती और बढती रहती है |कीमत के घटने और बढ़ने का कारण इसकी खरीद और बिक्री को माना जाता है जब इसे अधिक लोग खरीदते है तो इसकी कीमत बढ़ जाती है लेकिन जब इसे अधिक लोग बेचते है तो इसकी कीमत घटने लगती है |

  • Note :1 Bitcoin की कीमत समय समय पर बदलती रहती है तो आप इसकी वर्तमान कीमत जानने के लिए गूगल की मदद ले सकते है | Bitcoin kya hai

Bitcoin को कहाँ रखते है ?

जैसा की हमने आपको बताया की Bitcoin एक प्रकार की वर्चुअल करेंसी है तो आप इसे अपने वॉलेट या पॉकेट में तो रख नहीं सकते |इसे स्टोर करने के लिए डिजिटल वॉलेट की जरुरत पड़ती है या फिर आप इसे क्लाउड स्टोर वॉलेट में भी रख सकते है |

अब आपके मन में एक सवाल आता होगा की इसे रखते कहाँ होंगे तो आपको में बताना चाहूँगा की ऑनलाइन डिजिटल वॉलेट में आप इसे स्टोर कर रख सकते है आप इसे लम्बे समय तक भी रख सकते है | आप जहाँ से बिटकॉइन  खरीदते है वही आपको डिजिटल वॉलेट की सुविधा मिलती है आप जब चाहे तब इसे बेच कर उस कीमत को अपने बैंक अकाउंट में ट्रान्सफर कर सकते है |

बिटकॉइन का इस्तेमाल कहाँ कहाँ कर सकते है ?

बिटकॉइन  को आप ऑनलाइन लेन देन में आसानी से इस्तेमाल कर सकते है इसके अलावा इंटरनेट पर सैकड़ो हजारो वेबसाइट मौजूद है जो बिटकॉइन को स्वीकार करती है| आप  हवाई जहाज की टिकट,होटल रूम बुक,इलेक्ट्रॉनिक या फिर किसी ही प्रकार की ऑनलाइन लेन देन या शौपिंग कर सकते है |

जबकि यदि आप बैंक द्वारा भुगतान करते है तो आपको 2-3% का अतिरिक्त शुल्क भी देना पड़ता है लेकिन बिटकॉइन के लेन देन में किसी बी प्रकार का कोई अतिरिक्त शुल्क नहीं देना पड़ता | Bitcoin kya hai

Bitcoin का इस्तेमाल आप पैसा कमाने के लिए भी कर सकते है आप कम कीमत पर Bitcoin खरीद कर स्टोर कर ले और उसके बाद अधिक कीमत होने पर इसे बेच डे जिससे आपको अधिक मुनाफा होगा |

Bitcoin के क्या फायदे है ?

बिटकॉइन के फायदे के बारे में बात करे तो इसके अनेको फायदे है जैसा की हमने आपको बताया की आप इसको ऑनलाइन लेन देन,शॉपिंग  या फिर किसी भी प्रकार के ऑनलाइन पेमेंट के लिए इस्तेमाल कर सकते है आइये इसके कुछ और प्रमुख फायदे के बारे में जानते है

Bitcoin kya hai

 

  1. आमतौर पर डेबिट(ATM)/क्रेडिट कार्ड से भुगतान करने पर 2-3% का अतिरिक्त शुल्क भी देना पड़ता है जबकि बिटकॉइन में ऐसा कुछ भी नहीं है |
  2. क्रेडिट कार्ड की तरह बिटकॉइन की कोई क्रेडिट लिमिट नही होती आप 1 बिटकॉइन से लेकर हजारो लाखो बिटकॉइन  का लेन देन बड़ी ही आसानी से कर सकते है यह एकदम सुरक्षित और सुपरफास्ट है आप दुनिया में कही से भी यह सब कर सकते है |
  3. बिटकॉइन के द्वारा ऑनलाइन शॉपिंग,ऑनलाइन पेमेंट,होटल बुकिंग या किसी भी प्रकार के नेशनल और इंटरनेशनल लेन देन को कर सकते है |
  4. आप बिटकॉइन  खरीद कर लंबे समय तक ले लिए स्टोर भी कर सकते है और जब आपको लगे की अब आपको अच्छी कीमत मिल रही है तो आप बिटकॉइन  को बेच भी सकते है |
  5. Bitcoin एक डिजिटल करेंसी है इसलिए एक पर किसी विशेष व्यक्ति/सरकार या किसी भी सेंट्रल कंट्रोलिंग अथॉरिटी का स्वामित्व नहीं होता जिसकी बजह से आपके ऊपर कोई भी नजर नहीं रख सकता और लेन देन में भी किसी प्रकार से रोक टोक नहीं कर सकता है |

इसके अलावा इसका इस्तेमाल कुछ लोग गलत कार्यो में भी करते है क्योकि इसके लेन देन में आपके ऊपर कोई नजर नहीं रख सकता जिसकी वजह से इसका इस्तेमाल हैकर करते है |

Bitcoin इस्तेमाल से होने वाले नुकसान

बिटकॉइन के इस्तेमाल से होने वाले नुकसान की बात करे तो वैसे इसके नुकसान कम है और फायदे अधिक है लेकिन कुछ विशेष बाते है जो Bitcoin खरीदने से पहले आपको जरुर जाननी चाहिए

  1. इसपर किसी विशेष व्यक्ति/सरकार या किसी भी सेंट्रल कंट्रोलिंग अथॉरिटी का स्वामित्व नहीं होता है जिसकी वजह से यदि आपके बिट कॉइन का अकाउंट हैक हो जाता है या फिर किसी भी प्रकार का धोखा आपके साथ होता है तो सरकार भी आपकी मदद नहीं करेगी |
  2. बिटकॉइन की कीमत समय समय पर बदलती रहती है जिसके कारण इसमे काफी रिस्क होता है लेकिन यदि आप लम्बे समय के लिए बिटकॉइन खरीदते है तो आप इसे स्टोर कर रख सकते है |

Bitcoin माइनिंग किसे कहते है ?

आमतौर पर माइनिंग का अर्थ होता है खुदाई के द्वारा खनिजो को खदानों से निकालना जैसे कोयले की खदान या सोने की खदान में माइनिंग होती है | Bitcoin kya hai

Bitcoin की माइनिंग की बात करे तो बिटकॉइन का कोई भौतिक रूप नहीं होता तो इसकी खुदाई या फिर माइनिंग कैसे होगी |बिटकॉइन की माइनिंग का अर्थ है Bitcoin के निर्माण से | बिटकॉइन ला निर्माण इलेक्ट्रॉनिक रूप से कंप्यूटर द्वारा ही संभव हो पाता है  अर्थात नये Bitcoin बनाने के तरीके को Bitcoin माइनिंग कहा जाता है |

Bitcoin की माइनिंग का निर्माण एक ऐसा प्रोसेस है जिसमे इलेक्ट्रॉनिक रूप से कंप्यूटर पॉवर का इस्तेमाल किया जाता है यहाँ नेटवर्क को सुरक्षित किया जाता है और सिंक्रोनाइज किया जाता है |माइनिंग का कार्य केवल वह लोग कर सकते है जिनके पास शक्तिशाली और बेहद ही फ़ास्ट प्रोसेसिंग वाले कंप्यूटर मौजूद है और वह विशेष प्रकार की गणना करने में सक्षम है और ऐसे कंप्यूटर का आम आदमी के पास होना असम्भव है और यह आम आदमी के बजट से ही बाहर है |

बिटकॉइन माइनर को माइनिंग के लिए एक स्पेशल हार्डवेयर या कहे एक बहुत शक्तिशाली कंप्यूटर की जरुरत होती है जिसकी प्रोसेसिंग पॉवर बहुत अधिक हो और इसके अलावा Bitcoin माइनर सॉफ्टवेयर की भी आवश्कता होती है जब यह सब transaction करने के बाद प्रोसेसिंग पूरी हो जाती है तो आपको transaction फीस के तौर पर Bitcoin प्राप्त होते है |

Bitcoin कैसे ख़रीदे ?

Bitcoin का इस्तेमाल online transaction के लिए भी किया जा सकता है |बिटकॉइन peer to peer नेटवर्क बेस्ड पर कार्य करता है जिसका अर्थ है की लोगो को एक दुसरे से बिना किसी बैंक,डेबिट कार्ड,क्रेडिट कार्ड माध्यम की आवश्कता नही पडती |

बिटकॉइन को खरीदने के लिए वैसे तो कई प्रकार की वेबसाइट है लेकिन कुछ ख़ास और Trusted वेबसाइट है जो की Wazirx,Unocoin,Zebpay आप इन्हें विजिट कर सकते है |

तो आशा करता हूँ की आज का यह टॉपिक Bitcoin क्या है – Bitcoin kya hai आपको पसंद आया होगा और बिटकॉइन को लेकर आपके सभी प्रश्नों का हल आपको मिल गया होगा अगर आजका टॉपिक आपको अच्छा लगा हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर जरुर करे और हमे सभी Social Media plateform पर फॉलो करे धन्यवाद !

 

 

3 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here