e-Rupi Digital Payment – ई-रूपी डिजिटल पेमेंट क्या है यह कैसे कार्य करता है ?

0
e-Rupi Digital Payment

प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने बीते 2 अगस्त को एक नए डिजिटल प्लेटफार्म की शुरुआत की जिसे e-Rupi (ई-रूपी) के नाम से जाना जा रहा है| डिजिटल भुगतान को बढ़ावा देने और सरकार द्वारा चलायी जा रही अनेको महत्वकांक्षी और जन कल्याणकारी योजनाओ का लाभ लाभार्थियों तक पहुँचाने के मकसद से e-Rupi की शुरुआत की गयी है| तो आज मैं आपसे e-Rupi Digital Payment kya hai ई-रूपी डिजिटल पेमेंट क्या है या फिर e-Rupi kya hai जैसे सवालो के बारे में बात करने वाला हूँ और साथ ही आपको इनके जवाब भी देने वाला हूँ e-Rupi in hindi

देश में डिजिटल पेमेंट की व्यवस्था को बढ़ावा देने के लिए कई एहम कदम उठा चुकी मोदी सरकार अब e-Rupi के रूप में एक इलेक्ट्रॉनिक वाउचर लाने जा रही है जिससे कैशलैस और कांटेक्टलैस लेन-देन में इजाफा होगा| इलेक्ट्रॉनिक वाउचर पर आधारित इस Digital Payment System को NPCI (National Payments Corporation of India) ने तैयार किया है| इसे स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय राष्ट्रीय स्वास्थ्य प्राधिकरण और वितीय सेवा विभाग के सहयोग से डेवेलप किया गया है|

तो आइये जानते है कि आखिर यह कैसे कार्य करता है और साथ ही इसे कैसे बनाया जायेगा यह जन कल्याणकारी योजनाओ कको आखिर किस प्रकार से पूरा करेगा और साथ ही क्या यह भारत के एक डिजिटल करेंसी है इन सभी सवालो के जवाब पाने के लिए चलिए इसके बारे में विस्तार से जान लेते है :-

Contents

e-Rupi Digital Payment – ई-रूपी डिजिटल पेमेंट क्या है यह कैसे कार्य करता है ?

e-Rupi kya hai – आखिर क्या है e-Rupi :-

कुछ साल पहले जहाँ लेन-देन के लिए कागज के नोटों और सिक्को का इस्तेमाल होता था| जहाँ कैश के जरिये कोई भी व्यक्ति कुछ भी खरीद सकता था या फिर काश को किसी दुसरे व्यक्ति को भी दे सकता था | फिर आया कार्ड का जमाना जैसे क्रेडिट कार्ड और डेबिट कार्ड | इसके तहत लोग क्रेडिट कार्ड और डेबिट कार्ड के जरिये अपने लेन-देन को पूरा करते थे और इसके बाद आया Digital Payment Apps का जमाना जैसे Paytm, Phone pe, Google pay, Bharat pe जैसे डिजिटल पेमेंट एप्प जहाँ आप मोबाइल के जरिए भुगतान कर सकते है|

लेकिन इन सभी व्यवस्थाओ में एक बात समान थी कि व्यक्ति पैसे को अपने पास रख सकता है या फिर किसी को भी दे सकता है या फिर कहे किसी योजना के अनुसार लाभार्थियों को दी गयी रकम या तो दी ही नही जाएगी या फिर लाभार्थी ही उस पैसे से योजना के अनुसार लाभ न लेकर उस पैसे को कही और खर्च कर देता था|

ई-रूपी एक वाउचर की तरह होगा जिसके तहत एक तय रकम जारी की जाएगी जो कि किसी ख़ास मकसद के ही लिए खर्च होगी अर्थात किसी भी सरकारी योजना के लिए दिया गया पैसा उस योजना का फायदा उठाने के लिए ही खर्च होगा| तो अगर आपके मन में अब बभी यह सवाल है कि e-Rupi Digital Payment kya hai या फिर e-Rupi kya hai तो कम शब्दों में आपको मैं ई-रूपी के बारे में समझता हूँ |

“ई-रूपी कैशलैस और कांटेक्टलैस वाउचर बेस्ड तरीका है जो की यूजर्स को कार्ड,Digital Payment Apps या फिर इन्टरनेट बैंकिंग के बिना ही लाभ प्राप्त करने में मदद करेगा| यह एक वाउचर के तौर पर होगा जिसे किसी ख़ास व्यक्ति के साथ विशिष्ट उद्देश्य के लिए जारी किया जायेगा |”

e-Rupi कैसे कार्य करता है ?

e-Rupi एक ऐसी व्यवस्था होगी जिसमे किसी भी योजना का लाभ प्राप्त करने वाले और योजना प्रदान करने वाले के मध्यस्थ कोई नही होगा क्योकि सरकार की तरफ से यह वाउचर सीधे योजना से जुड़े लाभार्थियों के मोबाइल पर QR कोड या फिर SMS के जरिए भेज दिया जायेगा | उस वाउचर का प्रयोग वह व्यक्ति केवल उस कार्य के लिए ही कर सकेगा जिसके तहत उसे वो वाउचर दिया गया है  इसके अलावा उस वाउचर का कोई और या फिर कहीं और उपयोग नही हो सकता|

इसका लाभ प्राप्त करने के लिए लाभार्थी के पास बैंक खाता होना भी जरूरी नही है जो की दुसरे डिजिटल भुगतान माध्यमो में होता है| यह एक आसान और संपर्करहित भुगतान प्रणाली है | भुगतान प्राप्त करने के लिए आपको दो फेस प्रोसेस इंश्योर करना होगा | इसके प्रोसेस में आपका कोई भी पर्सनल डाटा भी शेयर नही होता है| e-Rupi Digital Payment kya hai

इसका एक फायदा और भी है कि इसे बेसिक फ़ोन पर भी आसानी से संचालित किया जा सकेगा इसलिए इसका उपयोग उन सभी लोगो के द्वारा भी किया जा सकता है जिनके पास स्मार्टफोन नहीं है या फिर इसका इस्तेमाल बिना इन्टरनेट के भी किया जा सकता है |

ई-रूपी का इस्तेमाल कहाँ कहाँ होगा ?

ई-रूपी के जरिए अब सरकारी योजनाओ के लिए रकम को एक वाउचर के तौर पर जारी किया जायेगा |सरकार की महत्वकांक्षी और जन कल्याणकारी योजनाओ को सफल बनाने के लिए यह सराहनीय कदम सरकार द्वारा उठाया जा रहा है | तो चलिए अब जान लेते है की आखिर e-Rupi in hindi का इस्तेमाल कहाँ कहाँ किया जायेगा :-

  • मातृ और बाल कल्याण योजना 
  • दवा मुहैया कराने वाली योजना
  • टीबी उन्नमूलन कार्यक्रम
  • प्रधानमंत्री आयुष्मान भारत जन आरोग्य योजना
  • खाद सब्सिडी योजना 

इसके अलावा सरकार धीरे धीरे इसे और भी विभिन्न प्रकार की योजनाओ में शामिल करने वाली है | सरकारी योजनाओ के अलावा प्राइवेट सेक्टर कभी कर्मचारियों को ऐसी अनेक प्रकार की योजनाये भी आने वाले समय में ई-रूपी के माध्यम से मुहैया करायी जाएगी|

ई-रूपी के इस्तेमाल से होने वाले लाभ :-

ई-रूपी के इस्तेमाल से आने वाले समय में बहुत से लाभ होंगे और सरकारी की सभी योजनाओ का फायदा जो ई-रूपी के तहत योजनाये संचालित होगी उनका सफल होना तय माना जा रहा है क्योकि यहाँ सेवा प्रदाता और लाभार्थी के मध्यस्थ कोई भी नही होगा और लाभार्थी को भी सेवा का लाभ तब ही मिलेगा जब वह उस वाउचर को लेकर उस सेवा से जुड़े केद्र पर जायेगा इसके अलावा उस वाउचर का कोई इस्तेमाल नही है | तो चलिए कुछ महत्वपूर्ण लाभ के बारे में जान लेते है:-

1.कैशलैस और कांटेक्टलैस पेमेंट माध्यम 

यह प्रक्रिया पूरी तरह से कैशलैस और कांटेक्टलैस है इसमे आपको किसी भी भौतिक पूंजी की आवश्कता नही होती है और न ही आपको किसी से पूंजी मांगने जाना पड़ेगा आपको इसका लाभ मोबाइल फ़ोन के जरिए ही मिल जायेगा |

2.QR कोड और SMS के माध्यम से ई-वाउचर

आपको e-Rupi in hindi का ई-वाउचर QR कोड (Quick Response) और SMS (Short Message Service) के माध्यम से आपके मोबाइल में मिलेगा जिसे आपको सेवा प्रदाता को दिखाना होगा और जब भी वह उसे स्कैनर से स्कैन करेगा तो उसे वाउचर में से एक निश्चित राशी प्राप्त हो जाएगी और बदलने में वह आपको सेवा देगा,साथ ही यदि आपके पास एक स्मार्टफोन नही है बल्कि एक बेसिक कीपैड फ़ोन है तो आपको ई-रूपी का वाउचर SMS द्वारा प्राप्त होगा|

3.किसी Digital Payment Apps की जरूरत नही 

आपको Paytm, Phone pe, Google pay, Bharat pe जैसे डिजिटल पेमेंट एप्प जहाँ आप मोबाइल के जरिए भुगतान कर सकते है लेकिन आपको यहाँ e-Rupi Digital Payment के लिए किसी भी डिजिटल पेमेंट एप्प की जरूरत नही होगी और न ही आपको इन्टरनेट की जरूरत पड़ेगी | यदि आपके पास कोई बैंक खाता भी नही है तब भी आप ई-रूपी का आसानी से इस्तेमाल कर सकते है|

4.ई-रूपी एक प्रीपेड रकम है 

e-Rupi in hindi एक प्रीपेड रकम है इसके पेमेंट में देरी नही होगी और लेन देन पूरा होने के बाद ही सर्विस प्रोवाइडर को पेमेंट प्राप्त होगा इसके बदले में आपको कुछ भी नही देना होगा केवल मोबाइल में मौजूद उस QR कोड को स्कैन कराना होगा या फिर SMS के जरिए प्राप्त होगा |

5.ई-रूपी पूरी तरह से सेफ है 

ई-रूपी पूरी तरह से सरल और सुरक्षित है इसमे धोखा होने की संभावना बहुत कम है और साथ ही यह किसी विशिष्ट योजना के लिए ही जारी किया जायेगा | e-Rupi in hindi के जरिए बिना किसी मध्यस्थ के पेमेंट होना तय है | यह ई-रूपी का वाउचर एक तय अवधि तक ही सीमित रहेगा इसके बाद जब उस वाउचर की अवधि समाप्त हो जाएगी तो उस वाउचर की राशी वापस ई-वाउचर को जारी करने वाले संस्थान के पास जमा हो जाएगी |

ई-रूपी वाउचर कौन जारी करेगा ?

NPCI (National Payments Corporation of India) ने ई-रूपी लेन देन के लिए 11 बैंको के साथ साझेदारी की है इनमे देश के प्रमुख बैंको को शामिल किया गया है जो कि ई-रूपी वाउचर को बनाने में सरकार की मदद करेंगे और सरकारी योजनाओ को सफल बनाने में अपना योगदान निभाएँगे | इन सभी बैंको की एक सूची मैंनेनीचे दी है और साथ ही कुछ बैंको के जो डिजिटल पेमेंट एप्प है वो भी इस वाउचर को स्कैन करने में सक्षम होंगे उनकी जानकारी भी आपको सूची मे मिल जाएगी |

e-rupi kya hai

इसे लेने वाले एप्प है भारत पे,भीम,बडौदा मर्चंट पे,PNB मर्चंट पे साथ ही और भी एप्प इसमे मौजूद है | इसके अलावा NCPI जल्द ही ई-रूपी स्वीकार करने वाले और भी ज्यादा बैंको और डिजिटल पेमेंट एप्प को इस श्रेणी में शामिल करने के लिए कार्य कर रहा है |

शुरुआत में NCPI में 1600 से ज्यादा अस्पतालों के साथ भी करार किया है जहाँ e-Rupi in hindi से भुगतान किया जा सकेगा | विशेषज्ञो का मानना है कि आने वाले समय में इसका उपयोग और भी ज्यादा व्यापक होगा| यह निजी क्षेत्रो में कार्यरत कर्मचारियों को भी लाभ देने के लिए इसका उपयोग किया जायेगा और साथ ही साथ सूक्ष्म,लघु और मध्यम उद्योग भी इसे धीरे धीरे अपनाएंगे |

e-Rupi Digital Payment का महत्त्व :-

वाउचर आधारित यह प्रणाली जिसे ई-रूपी के नाम से जाना जा रहा है| e-Rupi in hindi विशेषज्ञो के आधार पर समझे तो इसे काफी प्रभावी माना जा रहा है|वाउचर आधारित यह प्रणाली होने के कारण यह काफी सुरक्षित है| सरकार द्वारा लम्बे समय से भारत के केन्द्रीय बैंक रिज़र्व बैंक और इंडिया की तरफ से डिजिटल करेंसी पर काफी ज्यादा ध्यान दिया जा रहा था | 

आज सरकार द्वारा इस नई प्रणाली को विकसित करने के बाद बहुत से लोगो का मानना है कि यह भारत की अपनी डिजिटल करेंसी होगी| इसे वैसे डिजिटल करेंसी नही मानना चाहिए RBI इसे लाने के बारे में विचार कर रही है|

उम्मीद की जा रही है कि लाभार्थियों और सरकार के मध्यस्थ बढ़ रहे भ्रष्टाचार पर काफी गहरी चोट पड़ेगी और भ्रष्टाचार कम होगा| आप जल्द ही ई-रूपी डिजिटल भुगतान प्रणाली का उपयोग करने में सक्षम हो पाएंगे| सर्कार जल्द ही ई-रूपी के लिए एक एप्प भी लांच करने वाली है|

आखिरी शब्द :- 

सरकार अपने देश के नागरिको के लिए समय समय पर बहुत सारी जन कल्याणकारी योजनाए लाती रहती है लेकिन इसे पूरी तरह से सफल बनाने के लिए सरकार का सिस्टम काफी कमजोर पड़ जाता है| कभी लाभार्थियों तक तय राशी नही पहुँच पाती तो कभी सेवा करने वाले कर्मचारी ही सेवा केवल कागजो पर पूर्ण कर देते है | इन सभी परेशानीयों से बचने के लिए सरकार ने ई-रूपी वाउचर बेस्ड योजना की शुरुआत की है | तो आशा करता हूँ की आपके ई-रूपी से जुड़े सभी प्रश्नों के उत्तर जैसे e-Rupi Digital Payment kya hai, e-Rupi kya hai या फिर e-Rupi in hindi 

तो अगर यह जानकारी आपको अच्छी लगी हो तो इसे अपनी दोस्तों के साथ शेयर जरुर करे और साथ ही ऐसे ही लेटेस्ट टॉपिक के लिए हमे सोशल मीडिया पर फॉलो जरुर करे | धन्यवाद ! 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here