What Is FASTag – फ़ास्टैग क्या है जाने यह आपके वाहन के लिए क्यों जरुरी है ?

सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय (Ministry Of Road Transport And Highways) ने FASTag को लेकर कई अहम नियमो को लागु किया है और फ़ास्टैग के पहले के नियमो में कुछ अहम बदलाव भी किये है जिसके बारे में एक नोटिफिकेशन भी सामने आया है| फ़ास्टैग अब सभी चारपहिया वाहन या इससे बड़े सभी वाहनों के लिए अनिवार्य कर दिया है ,पर्सनल व्हीकल हो या फिर कमर्शियल व्हीकल यह नियम सभी वाहनों पर लागू होता है तो आज हम इसी विषय पर बात करने वाले है कि What Is FASTag  फ़ास्टैग क्या है और यह आपके वाहन के लिए क्यों जरुरी है ? और इसे लगवाने  से आपको क्या लाभ होगा ?

तो यदि आपके पास कोई चार पहिया वाहन है और आप उस पर फ़ास्टैग नहीं लगाते है तो टोल प्लाजा पर आपको डबल टोल का भुगतान तो करना ही होगा साथ ही साथ यदि आपको अपने वाहन का इन्सुरेंस करवाना है.PUC सर्टिफिकेट बनवाना है,फिटनेस सर्टिफिकेट बनवाना है या फिर आपको अपने वाहन का परमिट जारी करवाना है इन सभी कार्यो को करने के लिए आपको फ़ास्टैग की जरुरत पड़ेगी | यदि आपके वाहन पर फ़ास्टैग नही होगा तो आप यह सभी जरुरी कार्य नही कर पाएँगे |

What Is FASTag - फ़ास्टैग क्या है

What Is Fastag – फ़ास्टैग क्या है ?

Fastag एक RFID (Radio Frequency Identification) टैग होता है और आसान शब्दों में समझे तो टोल प्लाजा पर टोल कलेक्शन सिस्टम से होने वाली परेशानियों से बचने के लिए टोल प्लाजा पर लगने वाली लम्बी लम्बी कतारों से बचने के लिए भारतीय राष्ट्रीय राजमार्ग प्राधिकरण’ (National Highway Authority of India- NHAI) ने साल 2014 में भारत में इलेक्ट्रॉनिक रूप से टोल कलेक्शन सिस्टम को शुरू किया था जिसे फ़ास्टैग  का नाम दिया गया है |

आप फ़ास्टैग  की मदद से हाईवे टोल प्लाजा पर बिना रुके अपने टोल का भुगतान कर सकते है इसके लिए बस आपको अपने वाहन पर एक फ़ास्टैग  लगाना होगा| फ़ास्टैग  को आप अपने वाहन की विंड स्क्रीन पर लगाएँगे इसमे ही RFID लगा होता है जैसे ही आपकी गाड़ी टोल से गुजरती है तो टोल पर लगे सेंसर के संपर्क में आते ही आपके फ़ास्टैग अकाउंट से टोल शुल्क आटोमेटिक तरीके से कट जायेगा और आपके फ़ोन पर टोल शुल्क से जुडी जानकारी और आपके फ़ास्टैग  का बचा हुआ बैलेंस आ जायेगा और एस तरह आप बिना रुके अपने टोल का भगतन कर पाएँगे | 

What Is FASTag - फ़ास्टैग क्या है

फ़ास्टैग को आप अपने मोबाइल रिचार्ज की ही तरह रिचार्ज करेंगे इसे आप डेबिट/क्रेडिट कार्ड,नेट बैंकिंग या फिर UPI किसी भी प्रकार से कर सकते है |

फ़ास्टैग न लगवाने पर आपके ऊपर इसका क्या असर पड़ेगा ?

तो दोस्तों 2017 से पहले कि जो भी रजिस्टर्ड गाड़ियाँ है उन सभी के लिए फ़ास्टैग  को अनिवार्य कर दिया गया है 01 जनवरी 2021 के बाद यदि आपको अपनी गाड़ी का इन्सुरेंस करवाना है,फिटनेस सर्टिफिकेट बनवाना है,PUC सर्टिफिकेट बनवाना है या फिर परमिट जरी करवाना है यह सभी कार्य आप नहीं कर पाएँगे हालांकि सरकार की तरफ से इन्सुरेंस करवाने के लिए आपको अप्रैल 2021 तक का समय दिया गया है उसके बाद आप इन्सुरेंस भी नही करवा पाएँगे |तो कुल मिलाकर बात करे तो फ़ास्टैग अब आपके चार पहिया वाहन के लिए अनिवार्य कर दिया गया है इसके बिना आपका अब कोई भी कार्य नही होगा तो आइये अब बात करते है की आप फ़ास्टैग  कैसे और कहाँ से बनवा सकते है और इसके लिए कुल कितना खर्च आने वाला है ?

फ़ास्टैग कैसे और कहाँ बनवाए ?

 फ़ास्टैग क्या है यह जानने के बाद अब बात करते है कि फ़ास्टैग आप कैसे बनवा सकते है ? आप फ़ास्टैग  को ऑनलाइन या ऑफलाइन दोनों तरीके से बनवा सकते है आप किसी भी पेट्रोल पंप से फ़ास्टैग  ऑफलाइन तरके से बनवा सकते है इसके अलावा आप ऑनलाइन भी फ़ास्टैग  बनवा सकते है कई बैंक फ़ास्टैग  को बनाने की सुविधा देते है तो मै आपको बताऊंगा की आप HDFC बैंक की मदद से कैसे अपने लिए एक फ़ास्टैग  बनवा सकते है |

1.HDFC Bank से फ़ास्टैग  बनवाने के लिए यहाँ दिए गये लिंक पर क्लिक करे Click Here इसके बाद आप HDFC बैंक की ऑफिसियल वेबसाइट पर आ जायेंगे आप यहाँ सभी तरह की जानकारी पढ़ सकते है इसके बाद स्क्रीन के बीच में आपको Apply Now का आप्शन दिखेगा उसपर क्लिक करे |

fastag kya hai

2.आपके सामने एक नया पेज खुल जायेगा जहाँ पर आपसे पूछा जायेगा की क्या आपके पास HDFC Bank अकाउंट है यदि है तो आप Yes पर क्लिक करे अन्यथा NO पर क्लिक करे |

इसके बाद आपसे पूछा जायेगा की आप फ़ास्टैग किस तरह के वाहन के लिए लेना चाहते है ,पर्सनल व्हीकल या कमर्शियल व्हीकल के लिए पर्सनल व्हीकल वे होते है जिन वाहनों की नंबर प्लेट सफ़ेद रंग की होती है इसके अलावा कमर्शियल व्हीकल वे वाहन होते है जिनकी नंबर प्लेट पीले रंग की होती है तो आप एस आधार पर अपने वाहन को चुन सकते है |

 FASTag क्या है

3.इसके बाद अब आपको अपनी पर्सनल डिटेल फिल करनी होगी जिसमे आपका पूरा नाम,मोबाइल नंबर,ईमेल आईडी,जन्म तिथि,एड्रेस,राज्य,सिटी,पिनकोड,जेंडर आदि भरना होगा इसके बाद आप इस फ़ास्टैग को कहाँ के लिए अप्लाई कर रहे है उसका राज्य,जिला और पिनकोड इत्यादि सभी जानकारी भरेंगे और यह सब करने के बाद आपको एक पहचान पत्र आइडेंटिफिकेशन के लिए कोई भी डॉक्यूमेंट देना होगा आप उसका नंबर डाले और नेक्स्ट पर क्लिक करे |

4.यह सब कार्य करने के बाद अब आपको अपने वाहन से जुडी जानकारी देनी होगी जिसमे सबसे पहले आपको अपने वाहन अक रजिस्टर्ड नंबर डालना होगा और चुनना होगा की आपके पास किस तरह का वाहन है |

5.अब अगले स्टेप में आपको अपने वाहन की रजिस्ट्रेशन कॉपी RC लप अपलोड करना होगा जिसके लिए आपको Upload Registration copy पर क्लिक करना होगा और जहाँ भी आपने RC की कॉपी को रखा हुआ है उसे सेलेक्ट करना है और अपलोड कर देना है और सबमिट कर देना है |

6.सबमिट पर क्लिक करने के बाद आपका पूरा फॉर्म आपके सामने आ जायेगा जहाँ से आप सभी जानकारी को देख कर जाँच ले और फॉर्म के नीचे आ जाये यहाँ आपको Generate Confirmation code पर क्लिक करे आपके मोबाइल नंबर पर एक Verification code आएगा आप उसे भरे और Submit & continue पर क्लिक करे|

7.आखिर में अब आपको ₹500 रूपए लि payment करनी होगी जिसमे ₹100 रूपए आपके फ़ास्टैग  को बनाने की फीस होगी और ₹200 रूपए आपके फ़ास्टैग  की सिक्योरिटीज डिपाजिट होगा और बचे हुए ₹200 रूपए आपके फ़ास्टैग   के अकाउंट में क्रेडिट कर दिए जाएँगे आप उसे अपनी यात्रा के दौरान टोल भुगतान के लिए इस्तेमाल कर सकते है | आप कम से कम ₹100 रूपए से लेकर ₹1,00,000 रूपए तक फ़ास्टैग  अकाउंट में रख सकते है |

 

payment करने के लिए आप HDFC Bank के डेबिट और क्रेडिट कार्ड का इस्तेमाल कर सकते है इसके अलावा अगर आपके पास किसी और बैंक के कार्ड है तो आप other पर क्लिक कर उसके द्वारा payment कर सकते है | payment कम्पलीट होने के कुछ दिनों बाद फ़ास्टैग  को आपके घर डाक द्वारा भेज दिया जायेगा |

Paytm से बनवाए फ़ास्टैग   

आप Paytm एप्प की मदद से भी फ़ास्टैग बना सकते है इसके लिए आपको paytm को ओपन करना होगा और ऊपर दिए गये search बार में search करना होगा fastag और fastag से जुडी जानकारी आपके सामने आ जाएगी ऊस पर क्लिक करना होगा |

यहाँ आपसे पूछा जायेगा की आप किस वाहन के लिए फ़ास्टैग बनवाना चाहते है तो आप अपने वाहन के टाइप को चुनेंगे इसके बाद अपने वाहन के रजिस्ट्रेशन नंबर को डालना होगा इसके बाद आपको अपनी वाहन की RC की फ्रंट साइड और बेक साइड की फोटो क्लिक करनी होगी और अपलोड करनी होगी इसके बाद अपने एड्रेस को भरना होगा और अंत में ₹500 का भुगतान करना होगा और कुछ दिनों के भीतर ही आपका fastag आपके घर के एड्रेस पर आ जायेगा 

तो आशा है की आज का यह विषय (What Is FASTag – फ़ास्टैग क्या है) आपको जरुर पसंद आया होगा और अगर पसंद आया हो तो इसे अपने दोस्तों के साथ शेयर जरुर करे और साथ ही साथ हमे सोशल मीडिया पर फॉलो जरुर करे ऐसी ही और जरूरी अपडेट से जुड़े रहने के लिए नोटीफिकेशन प्राप्त करने के लिए नोटीफिकेशन बेल allow करे| धन्यवाद !

4 thoughts on “What Is FASTag – फ़ास्टैग क्या है जाने यह आपके वाहन के लिए क्यों जरुरी है ?

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Live Updates COVID-19 CASES